Lalli Prasad Pandey Archive

बानर जी / लल्लीप्रसाद पांडेय

आँखों पर चश्मा है सुंदर, सिर पर गांधी टोपी है, और गले में पड़ा दुपट्टा, निकली बाहर चोटी है। टेबिल लगा बैठ कुरसी पर, लिखते हैं बानर जी लेख, करते हैं कविता का कौशल, रहती जिसमें मीन न मेख। तुकबंदी …